Connect with us

Hi, what are you looking for?

समाचार

कांग्रेस विकास की गारंटी, जाति-धर्म के बहकावे में मत आइये: प्रियंका गांधी

कांग्रेस के घोषणा-पत्र में महिलाओं और युवाओं के लिए कई ऐलान, उत्पादकता व उद्यमिता बढ़ाने के लिए लीक से हटकर योजनाएं

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बुधवार को देहरादून में पार्टी का घोषणा-पत्र जारी करते हुए लोगों से जाति-धर्म की बजाय काम के आधार पर वोट देने की अपील की। वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि देवभूमि में जिस तरह की सरकार चल रही है, उसको देखकर दुख होता है। पिछले पांच सालों में कुछ काम नहीं किया गया। लेकिन जब हम कोई घोषणा करते हैं तो सवाल उठाते हैं कि पैसे कहां से आएंगे। सच्चाई ये है कि पैसे हैं, लेकिन सरकार की नीयत ठीक नहीं है। आपको डबल इंजन की सरकार का वायदा किया, लेकिन आज पेट्रोल-डीजल इतना महंगा है कि इंजन ठप हो गया है।

उत्तराखंड स्वाभिमान प्रतिज्ञा-पत्र नाम से जारी कांग्रेस के घोषणा-पत्र में गैस सिलेंडर के दाम 500 रुपये के अंदर रखने, कोरोना से प्रभावित 5 लाख परिवारों को सालाना 40 हजार रुपये की मदद, 4 लाख युवाओं को रोजगार, 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली और खाली पड़े 57 हजार पदों पर भर्ती जैसे कई बड़े ऐलान किए हैं। सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन बहाल करने का वादा किया है। स्वास्थ्य सेवाओं को हर गांव, हर द्वार तक पहुंचाया जाएगा।

रोजगार पर जोर

प्रियंका गांधी ने कहा कि उत्तराखंड में लॉकडाउन की वजह से पर्यटन का बहुत नुकसान हुआ है। हम इसके लिए खास पैकेज लाएंगे और पर्यटन पुलिस की भर्ती से रोजगार बढ़ाए जाएंगे। प्रदेश में भर्तियों से रोक हटाकर खाली पड़े 57 हजार पदों को भरा जाएगा। कांग्रेस ने उपनल और संविदाकर्मियों को चरणबद्ध तरीके से नियमित करने का ऐलान भी किया है। तृतीय और चतुर्थ श्रेणी की नौकरियों में स्थानीय अभ्यर्थियों को प्राथमिकता देने के लिए ब्लॉक काडर लागू किया जाएगा।

महिलाओं के लिए कई ऐलान

कांग्रेस का घोषणा-पत्र जारी करते हुए प्रियंका गांधी ने 40 प्रतिशत सरकारी रोजगार महिलाओं को देने का ऐलान किया है। पुलिस विभाग में 40 प्रतिशत पद महिलाओं के लिए आरक्षित होंगे। सरकारी बसों में महिलाओं को मुफ्त यात्रा मिलेगी। आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय डेढ़ गुना बढ़ाया जाएगा। कमजोर परिवारों की मदद के लिए 40 हजार रुपए की मदद सालाना मिलेगी और स्वास्थ्य सेवाएं गांव-गांव तक पहुंचाई जाएंगी। ड्रोन्स के जरिए भी दवाईयां पहाड़ी इलाकों में पहुंचाई जाएगी। प्रियंका गांधी का कहना है कि ये घोषणाएं नहीं प्रतिज्ञाएं हैं, इनको पूरा किया जाएगा।

लड़की हूं, लड़ सकती हूं

प्रियंका गांधी की वचुर्अल रैली के दौरान कैनाल रोड स्थित परिसर में बड़ी संख्या में महिला कार्यकर्ता मौजूद थीं। इसके अलावा प्रदेश की सभी विधानसभाओं में प्रियंका गांधी के संबोधन को हजारों लोगों ने सुना। महिलाओं को सरकारी नौकरियों में 40 फीसदी आरक्षण और ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ नारे का जिक्र आते ही महिलाओं में उत्साह देखने लायक था। प्रियंका गांधी ने कहा कि महिलाओं का जीवन, संघर्ष का जीवन है। उत्तराखंड में हर पांच घंटे एक महिला के साथ अत्याचार होता है। जब महिलाएं बीमार पड़ती हैं, गर्भवती होती हैं तो अस्पताल भी नहीं पहुंच पाती हैं। आशा बहनें, आंगनबाड़ी की महिलाएं, उनका मानदेय बढ़ाया भी नहीं गया। कांग्रेस सरकार लोगों को उनका हक दिलाएगी लेकिन इसके लिए सबको जागरूक होना होगा।

पीएम के लिए प्लेन खरीदे, गन्ना भुगतान बकाया

उत्तराखंड की वर्चुअल रैली में प्रियंका गांधी ने गन्ना किसानों के बकाया भुगतान का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने कहा कि देश भर में गन्ना किसानों का 14 हजार करोड़ रुपये बकाया है। प्रधानमंत्री जी ने अपने लिए दो हवाई जहाज खरीदे हैं उनकी कीमत 16 हजार करोड़ रुपये है। प्रधानमंत्री के दो हवाई जहाज के खर्चे में पूरा गन्ने का बकाया चुकाया जा सकता था। किसानों को तमाम मुश्किलों को सामना करना पड़ रहा है। उन्हें खाद नहीं मिल रही है। पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ गए हैं।

कोरोना काल की याद दिलाई

प्रियंका गांधी ने कोरोना काल की परेशानियों को याद दिलाते हुए भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि लोगों को एक दिन पहले बताया गया कि अगले दिन लॉकडाउन है। लोगों को उनके हाल पर बेबस छोड़ दिया।  हमने कहा कि हम बसों का इंतजाम करेंगे, उसके लिए भी मना कर दिया। फिर ऑक्सीजन की किल्लत हुई। 2021 में कोराना की दूसरी लहर आई। सरकार के पास एक साल था लेकिन कोई योजना नहीं बनायी। पहले ऑक्सीजन का निर्यात किया, वैक्सीन का निर्यात किया और जब समय आया तो हिंदुस्तानियों के पास ना वैक्सीन थी और ना ऑक्सीजन।

हीरा सस्ता, दवा महंगी

मंगलवार को पेश केंद्र सरकार के बजट की आलोचना करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि बजट में गरीबों और मिडिल क्लास के लिए कुछ भी नहीं था। किसी ने उन्हें बताया कि हीरे का दाम सस्ता हो गया है और दवा का दाम बढ़ गया है। 500 रुपए का सिलेंडर 1,000 रुपये का हो गया है। पहाड़ में पहुंचता है तो 2000 रुपये क हो जाता है। हम इसे 500 रुपए का करेंगे। यह कोई तोहफा नहीं है, आपका हक है।

कांग्रेस विकास की गारंटी

प्रियंका गांधी ने उत्तराखंड के मतदाताओं से कांग्रेस के ट्रैक रिकॉर्ड के नाम पर वोट मांगे। उन्होंने कहा छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार आने के तीन घंटे के भीतर किसान का कर्ज माफ किया गया था। विकास की गारंटी कांग्रेस ही दे सकती है। कांग्रेस के नेता हर संघर्ष में जनता के साथ खड़े हैं। अगर आपको परिवर्तन लाना है तो जाति-धर्म से ऊपर उठकर चुनाव में विकास की बात करनी होगी। शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार की बात करनी होगी। यह चुनाव उत्तराखंड का भविष्य बदल सकता है।

लीक से हटकर घोषणाए

कांग्रेस के घोषणा-पत्र में लीक से हटकर कई ऐलान किए गए हैं। इनमें पत्रकार कल्याण बोर्ड, युवा अधिवक्ता कल्याण कोष और अप्रवासी उत्तराखंडी आयोग का गठन शामिल है। पोस्ट ग्रेजुएट छात्रों को 5 लाख रुपये तक का स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड, शिक्षा ऋणों की ब्याज माफी, स्पोटर्स यूनिवर्सिटी की स्थापना का वादा भी किया है।

उत्पादकता और उद्यमिता पर जोर

उत्तराखंड में उत्पादकता और उद्यमिता बढ़ाने के लिए कांग्रेस ने घोषणा-पत्र के माध्यम से अपना विजन सामने रखा है। बंजर खेतों को उपजाऊ बनाने के लिए किसानों को प्रोत्साहन राशि देगी। पलायन रोकने के लिए कूड़ी-बाड़ी पुनर्जीवन योजना के तहत मूल गांवों में रहने वाले ग्रामीणों को प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। उन्हें बिजली-पानी के बिलों में भी छूट मिलेगी। पर्वतीय क्षेत्रों में जल-स्रोतों को पुनर्जीवित करने और ग्राम विकास आयोग की स्थापना का वादा किया है। वन संपदा पर स्थानीय लोगों को अधिकार दिलाने के लिए खेतों से पेड़ काटने की इजाजत दी जाएगी। साथ ही एग्रीकल्चर फॉरेस्ट्री को भी बढ़ावा मिलेगा।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

संबंधित पोस्ट

नीति

विपक्ष ने लगाया सरकार पर मुद्दों से भागने का आरोप, विधानसभा अध्‍यक्ष ने दिया टैक्‍सपेयर्स का पैसा बचाने का तर्क

समाचार

धामी मंत्रिमंडल में तीन नए चेहरे, पांच पुराने मंत्रियों को मौका, तीन पद खाली

समाचार

उत्तराखंड में कांग्रेस की हार के लिए जिन नेताओं को जिम्मेदार माना जा रहा है, पार्टी ने हार की समीक्षा का जिम्मा उन्हीें को...

समाचार

पुष्कर सिंह धामी को दोबारा मुख्यमंत्री बनाकर भाजपा ने उत्तराखंड पर उपचुनाव का बोझ डाल दिया है।